मगध राज वंश नाग वंश


https://www.hindilight.com/

नाग वंश-
शिशुनाग- इसने वैशाली को मगध कि राजधानी बनाया इसका उतराधिकारी कालाशोक हुआ            शिशुनाग ने 412 से 300 ई. पू. तक शासन किया।
कालाशोक-इसका अन्य नाम काकवर्ण भी था I हर्षचरित के अनुसार इसकी म्रत्यु किसी के द्वारा गले में छुरा भोकने से हुई थी I  कालाशोक के काल में 383 ई.पु. दूसरी बोद्ध संगती का आयोजन बैशाली में सबकामी कि अध्यक्षता में हुआ जिसमे बौद्ध धर्म स्थविरवाद व महासंघिक दो दलों में बिभाजित हो गया था Iनाग वंश का अंतिम राजा नन्दिवर्धन था I

Post a Comment

0 Comments