MUDRA LOAN,MUDRA YOJNA KYA HAI HINDI ME JANO-

mudra-yojna

MUDRA LOAN,MUDRA YOJNA KYA HAI  HINDI ME JANO- 
(Micro Units Development & Refinance Agency Ltd)


कोरोनवायरस ने धीरे-धीरे सभी देशो को अपनी चपेट में ले लिया है शायद ही कोई ऐसा देश हो जो कोरोना वायरस के कहर से अपने आप को सुरक्षित कर पाया हो,अपने को विश्व की महाशक्तिया कहने वाले देश भी कोरोनवायरस के जानलेवा प्रकोप से अपनी जनता को नहीं बचा सके I इस महामारी में सभी देश कुछ न कुछ अभावों से गुजर रहे है कही ventilator कही face mask और कही medicine की कमी पड़  रही है  I कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप से बचने के लिए सभी देशो ने कुछ कदम उठाए जिसमे लॉकडाउन सबसे महत्वपूर्ण कदम रहा है l भारतवर्ष मे भी PM मोदी जी 24 मार्च से देश में पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी l लॉकडाउन लगाने से देश के सभी छोटे और बड़े उद्योग पूर्ण रूप से बंद करने पड़े जिसका सबसे बड़ा असर देश कि अर्थव्यवस्था पर पड़ा है जो दिन व दिन नीचे गिरती जा रही है I देश की गिरती अर्थव्यवस्था को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपए जैसे भारी-भरकम पैकेज की घोषणा की, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पैकेज को लेकर कहा कि ये पैकेज देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है और इसे उन्होंने आत्मनिर्भर पैकेज का नाम भी दिया l

कोरोनावायरस के कारण देश में आर्थिक मंदी के हालात हैं, इस मंदी ने कई लोगों से उनका रोजगार भी छीन लिया है।ऐसे समय में सरकार की बहुत योजनायें है जिनकी मदद से नया या पुराना व्यापार दोवारा शुरू किया जा सकता है I ऐसी ही एक योजना MUDRA YOJNA है I इस योजना के तहत 10 लाख रुपए तक का लोन लिया जा सकता हैं। आज हम आपको इसके बारे में पूर्ण जानकारी देते हैI  MUDRA YOJNA केंद्र  सरकार ने सन 2015 में शुरू कि थी I



2015 में शुरू MUDRA YOJNA  का उद्देश्य निम्न व्यापारियों से लेकर छोटे कारोबार को बिना किसी गारंटी (जमानत) के लोन उपलब्ध कराना है। कोई भी व्यक्ति जो अपना स्वयं का व्यवसाय शुरु करना चाहता है, वह इस योजना के तहत लोन ले सकता है। इसके साथ ही अगर कोई अपने मौजूदा व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता है, तो भी उसे इस योजना के माध्यम से लोन मिल सकता है। mudra yojna के तहत बिना गारंटी के लोन लिया जा सकता है I


KITNA LOAN LE SAKTE HAI:
MUDRA LOAN को 3 श्रेणियों में विभाजित किया गया है-
1-Shishu mudra loan (शिशु मुद्रा लोन) जिसमें loan की अधिकतम सीमा 50 हजार रुपए है I
2- Kishor mudra loan (किशोर मुद्रा लोन) जिसमें loan की अधिकतम सीमा 50 हजार से 5 लाख रुपए तक की सीमा है I
3-Tarun mudra loan (तरुण मुद्रा लोन)  जिसमें loan की अधिकतम सीमा 5 लाख रुपए से 10 लाख रुपए तक की सीमा रखी गई है।
mudra yojna के अंतर्गत mudra loan अपनी श्रेणी और व्यापार के हिसाब से लोन ले सकते है mudra loan लेने लिए आपको अपना बिजनेस प्लान बताना होगा । साथ ही लोन के लिए सभी आवश्यक दस्तावेज भी तैयार करने होते हैं। सामान्य दस्तावेजों के साथ बैंक आपसे आपका बिज़नेस प्लान, प्रोजेक्ट रिपोर्ट, भविष्य की आय के अनुमान संबंधी दस्तावेज भी मांगेगा, ताकि उसे आपकी आवश्यकता की जानकारी हो, साथ ही यह भी अंदाजा लग सके कि आपको लाभ कैसे होगा या लाभ कैसे बढ़ेगा।
Mudra loan के लिए पात्रता Mudra loan eligibility : mudra loan कोई भी निम्न या माध्यम दर्जे का व्यापारी apply कर सकता है l
mudra loan




Mudra Loan के लिए कैसे अप्लाई करे (mudra loan registration):
सबसे पहले आवेदक को एक बिजनेस प्लान तैयार करना होगा है और साथ ही किस बैंक या वित्तीय संस्थान से लोन लेना चाहते हैं यह निश्चित कर लें। आवेदक एक से अधिक बैंकों का चयन कर सकता है। बैंक को दस्तावेजों के साथ लोन एप्लिकेशन फॉर्मभर कर जमा करना होगा।

Mudra loan documents:

mudra loan के लिए आपको एप्लीकेशन फॉर्म  के साथ निम्न डॉक्यूमेंट जमा करने होते हैं। लोन की राशि, व्यापार की प्रकृति, बैंक नियमों आदि के आधार पर डॉक्यूमेंट की संख्या कम या ज्यादा हो सकती है।
बिज़नेस प्लान या प्रोजेक्ट रिपोर्ट, पहचान संबंधी दस्तावेज़ जैसे पैन कार्ड , आधार कार्ड , मतदाता पहचान पत्र आदि । 
एक से ज्यादा आवेदकों की स्थिति में पार्टनरशिप संबंधी डॉक्यूमेंट (partnership deed), टैक्स रजिस्ट्रेशन, बिज़नेस लाइसेंस आदि ।
निवास के प्रमाण संबंधी दस्तावेज़, जैसे टेलीफोन बिल/बिजली बिल आदि आवेदक की 6 महीने से कम पुरानी तस्वीरें, मशीन या अन्य सामग्री का कोटेशन जिसे खरीदना चाहते हैं, साथ ही जहां से खरीदेंगे उस सप्लायर/दुकानदार के बारे में जानकारी I
आवेदन सही पाए जाने पर बैंक या वित्तीय संस्थान मुद्रा लोन पास करेगा और आवेदक को मुद्रा कार्ड प्रदान किया जाएगा। mudra yojna के अंतर्गत कोई डॉक्यूमेंट प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होती है 

Mudra loan interest rate: Mudra loan पर कितना व्याज देना होगा:

mudra loan की खास बात यह है कि इसमें कोई निश्चित ब्याज दर नहीं है। अलग-अलग बैंक loan पर अलग-अलग दर से ब्याज वसूल सकते हैं। दर का निर्धारण कारोबार की प्रकृति और उससे जुड़े जोखिम के आधार पर तय होता है। वैसे आमतौर पर 10 से 12 प्रतिशत सालाना ब्याज दर रहती हैI
हाल ही में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज के तहत mudra loan को लेकर घोषणा की है । इसके तहत वित्त मंत्री ने Shishu mudra loan (शिशु मुद्रा लोन) पर दो फीसदी की ब्याज छूट देने का ऐलान किया है । सरकार द्वारा यह छूट 12 महीने के लिए दी जाएगी।

Post a Comment

0 Comments